Monday, January 11, 2010

पहचान कौन ?



एक दिन अचानक किसी लड़की का फ़ोन आया
मेने फ़ोन झट से उठाया
मेने पुछा कौन बोल रहा हे
उसने कहा में बोल रही हू
मैंने कहा मै तो बकरी बोलती है
उसना कहा फिलहाल तो तेरे फोन पे एक छोकरी बोलती है
मैंने सोचा क्यु न हो जाऊ एकदम मौन ...
तभी अचानक उसने कहा पहचान कौन ?


मैंने कहा तू तो जरुर अंजलि होगी
उसने कहा नहीं ये तो कोई करमजली होगी
तभी मेने अपने जुओं से भरा सर खुजाया
और तभी मेरे दिमाग में एक आईडिया आया
मैंने कहा सच सच बता तू है कौन ?
उसने फिर से कहा पहचान कौन ?


अब मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था
दिल है की धड़का जा रहा था
मैंने कहा तू मुझे इतना मत सता
उसना कहा तो चुपचाप मेरा नाम बता
मैंने तुतलाते हुए कहा क्या मैंने तुझे छेला है
उसना कहा सच सच बता तेरा कितनी लडकियों से झमेला है
मैंने कहा ये सब पूछने वाली तू है कौन
उसने फिर से कहा तो पहचान कौन ??



मुझसे हुई ये खता मुझे तेरा नाम नहीं पता
उसने कहा तू तो है ही गधा जो तुझे कुछ नहीं पता
मैंने कहा क्यु बजा रही है मेरी जुन्दगी की रिंगटोन
उसने फिर से कहा पहचान कौन /??



मेरे भेजे में फिर से एक लड़की का नाम आया
और मेने इस बार बिना सर खुजाये कुछ इस अंदाज़ में गया की --
जादू तेरी नज़र खुशबु तेरा बदन तू हा कर या न कर तू है मेरी किरन
उसने कहा -
जादू तेरी नज़र खुशबु तेरा बदन तू हां कर या न कर मै हू तेरी बहन ...






बहन सुनते ही मेरे दिल के अरमान टूट गए
और मेरे गर्लफ्रेंड के ख्वाब टूट गए
मै अपने ख्वाबो से बहार निकल आया
और रजाई ओड़ के चुपचाप सो गया
की अब न उठाऊंगा कभी फ़ोन
ताकि कोई कह न सके पहचान कौन ?????

10 comments:

chinmay said...

hai yaar you rocked

Udan Tashtari said...

बढ़िया....

Eisha said...

hey gud one..really nice :)

shailesh said...

realy very good nd inresting
nd u r grt

vibhor said...

bhai bhut achee ajkal ki yahi khani h....ab ladko ki eseee hi shamat anni h...bus hum jaisee logo ko nar shkti ki laaj bchani h...taki phir koi pehchan kaun naa bole or phir koi ladka inka shikar naa hooleee.....


brooo yaar sach me dil see bhut achiii h god blesss uuu

MANISH said...

bro ye vibhor vala cmnt maine kiya h ok vo galti se uske a/c se ho gya ok

MANISH said...

bro ye vibhor vala cmnt maine kiya h ok vo galti se uske a/c se ho gya ok

nandini_roi00 said...

bhaut achi peom hai..apka sapna kabhi na tute nd fir kabhi rajai ur ke sona na pare...gud...bhaut interesting thi...

vrinda said...

awsome poem yaar
gud n intresting also comedy
is that reality
kitni ladikyan patai hai
jo behn ki hi awaz bhul gaye
well gud luk 4 further poems

kashish said...

very gud poem....